सज़ा न दे मुझे, मैं इंतज़ार कर लूंगा Saza na de mujhe main intezaar kar loonga

सज़ा न दे मुझे, मैं इंतज़ार कर लूंगा

तेरे हिसाब से, शर्तों पे प्यार कर लूंगा

तुम अपने हुस्न का दरबान बना रख लो मुझे

तुम्हें इस जान का जागीरदार कर लूंगा

Saza na de mujhe main intezaar kar loonga

Tere hisab se, sharton pe pyar kar loonga

Tum apne husn ka darbaan banaa rakh lo mujhe

Tumhe is jaan ka jaagirdaar kar loonga

Leave a Comment

%d bloggers like this: