Pod Taxi in Greater Noida From Jewar Airport To Uttar Pradesh Film City

Pod Taxi in Greater Noida From Jewar Airport To Uttar Pradesh Film City

गौतम बुद्ध नगर के जेवर में नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट से उत्तर प्रदेश की फिल्म सिटी तक चलने वाली पॉड टैक्सी का रूट तैयार हो गया है. इसके लिए फिल्म सिटी से एयरपोर्ट तक ट्रैक का निर्माण होगा. यमुना एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डेवेलपमेंट ऑथॉरिटी ने जेवर एयरपोर्ट तक कनेक्टिविटी आसान करने के लिए प्रपोज़्ड पॉड टैक्सी का 14 किमी का रूट प्लान तैयार कर लिया है.

Pod Taxi in Greater Noida From Jewar Airport To Uttar Pradesh Film City
Pod Taxi in Greater Noida From Jewar Airport To Uttar Pradesh Film City

14 किलोमीटर में से साढ़े पांच किमी का रूट यमुना एक्सप्रेसवे के पैरेलल यानी समानांतर होगा. इसके अलावा पॉड टैक्सी यीडा के चार सेक्टर्स से भी होकर भी गुजरेगी. यमुना ऑथॉरिटी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर अरुणवीर सिंह ने बताया कि पॉड टैक्सी चलाने के लिए IPRCL यानी INDIAN PORT RAIL & ROPEWAY CORPORATION LTD. ने डीटेल्ड प्लान बना लिया है.

जेवर के नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट से फिल्म सिटी की दूरी यमुना एक्सप्रेसवे के पैरेलल करीब साढ़े पांच किमी है लेकिन ऑथॉरिटी के सेक्टर्स को भी पॉड टैक्सी की कनेक्टिविटी देने के लिए पॉड टैक्सी का रूट लगभग 14 किमी बनाया गया है. यानी यमुना ऑथॉरिटी के सेक्टर- 28, 29, 32, और 33 को भी पॉड टैक्सी की कनेक्टिविटी मिलेगी.

पॉड टैक्सी का सबसे ज्यादा फायदा उन लोगों को होगा जो इन सेक्टर्स में स्थापित इंडस्ट्रीज़ में काम करेंगे. पॉड टैक्सी के जरिए लोगों को कम कीमत पर ट्रांसपोर्ट की अच्छी सुविधा मिल सकेगी. पॉड टैक्सी प्रोजेक्ट का काम पीपीपी यानी पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के आधार पर होगा.

पॉड टैक्सी प्रोजेक्ट का फायदा सिर्फ रोज़गार पाने वालों को ही नहीं बल्कि रोज़गार देने वालों को भी होगा. यीडा के सेक्टर-28 में मेडिकल डिवाइस पार्क और डाटा सेंटर प्रपोज्ड है जबकि सेक्टर-29, 32 और 33 इंडस्ट्रियल सेक्टर हैं. इनमें टॉय पार्क, अपैरल पार्क, एमएसएमई पार्क और अन्य कई प्रोजेक्ट प्रस्तावित हैं. इन सभी सेक्टर्स में पॉड टैक्सी का स्टेशन बनाया जाएगा.

पॉड टैक्सी की मैक्सिमम स्पीड 100 किमी प्रति घंटा होगी. ये पूरी तरह से एलिवेटेड ट्रैक पर चलेगी. एक टैक्सी में 4 से 6 यात्री सफर कर सकेंगे.

पॉड टैक्सी प्रोजेक्ट के लिए बिड डॉक्यूमेंट और कंसेशन अग्रीमेंट तैयार हो चुका है. टेंडर जारी करने से पहले यूपी सरकार की मंजूरी ली जानी है. मंज़ूरी के बाद ही टेंडर जारी किया जाएगा.

Leave a Comment

%d bloggers like this: