New Noida latest update in Hindi न्यू नोएडा के पहले फेज़ में शुरुआती तौर पर खर्च होंगे 8500 करोड़?

New Noida latest update in Hindi न्यू नोएडा के पहले फेज़ में शुरुआती तौर पर खर्च होंगे 8500 करोड़?

New Noida latest update in Hindi
New Noida latest update in Hindi

न्यू नोएडा पर कुछ तो बताइए ‘सरकार’
शुरुआती तौर पर खर्च होंगे 8500 करोड़?

न्यू नोएडा को लेकर आखिरी बड़ी ख़बर तब आई थी जब दिल्ली में नोएडा स्टेकहोल्डर्स मीट का आयोजन किया गया था. अब इसे लेकर एक नई डीटेल सामने आई है. इस वीडियो में आपको बताएंगे कि शुरुआती डेवेलपमेंट के लिए क्या तैयारी है.

जब सितम्बर 2022 के आखिर में दिल्ली में स्टेकहोल्डर्स की मीटिंग हुई थी तब कहा गया था कि न्यू नोएडा के डेवेलपमेंट के लिए इसका मास्टर प्लान – 2041 तैयार है. हालांकि अभी तक मास्टर प्लान 2041 कहां तक आगे बढ़ा है इसकी कोई जानकारी बाहर नहीं आई है.

New Noida latest update in Hindi
New Noida latest update in Hindi

जो जानकारी बाहर आई है वो ये है कि न्यू नोएडा का डेवेलपमेंट एक साथ नहीं बल्कि कई फेज़ में होगा. इसके पहले फेज़ के लिए 8,500 करोड़ रुपए की शुरूआती रकम से विकास कार्य कराए जाएंगे.

नोएडा के बाद अब न्यू नोएडा की बारी है। नोएडा में बची खुची कमियों को न्यू नोएडा में पूरा कर दिया जाएगा और निवेश का एक सबसे बड़ा ठिकाना न्यू नोएडा बनेगा। इसके लिए 8500 करोड़ रुपये की शुरूआती रकम से लगभग 3000 हेक्टेयर जमीन खरीदी जाएगी और उसे डेवेलप किया जाएगा। इसके लिए नोएडा ऑथॉरिटी जमीन खरीदने और उसे विकसित करने के लिए यूपी सरकार से फंड मांगेगा। अभी तक की प्लानिंग के मुताबिक 3000 हेक्टेयर जमीन खरीदने के लिए 4500 करोड़ रुपए खर्च किया जाएंगे. इसके अलावा 1500 हेक्टेयर ज़मीन के डेवेलपमेंट वर्क पर 4000 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे.

New Noida latest update in Hindi
New Noida latest update in Hindi

यानी 8500 करोड़ रुपये की रकम खर्च होने के बाद भी लगभग 1500 हेक्टेयर ज़मीन डेवेलपमेंट से अछूती रहेगी. मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि यूपी सरकार से फंड मिलते ही जमीन के अधिग्रहण का काम शुरू कर दिया जाएगा.

यूपी सरकार और नोएडा ऑथॉरिटी चाहती हैं कि नोएडा के डेवेलपमेंट के दौरान में जो अधूरा रह गया था या जो कमियां रह गई थीं उन्हें न्यू नोएडा में पूरा किया जाए. इसके लिए मास्टर प्लान 2041 भी बनकर तैयार है हालांकि उसपर काम शुरू नहीं हो पाया है.

दरअसल ग्रेटर नोएडा और बुलंदशहर के 85 गांवों को मिलाकर डेवेलप करने से बने क्षेत्र को डीएनजीआईआर यानी दादरी नोएडा गाजियाबाद इन्वेस्टमेंट रीजन कहा जाएगा. यही एरिया न्यू नोएडा कहलाएगा. इसे 21,102 हेक्टेयर क्षेत्र में बसाया जाएगा। जहां पर आवासीय, औद्योगिक, संस्थागत, ट्रैफिक और ट्रांसपोर्ट, ग्रीन एरिया, रीक्रिएशन, ग्रीन फैसिलिटी एंड यूटिलिटी, और वाटर बॉडी जैसे एरिया होंगे.

Noida-Authority
Noida-Authority

नई दिल्ली के फिक्की ऑडिटोरियम में हुई नोएडा स्टेकहोल्डर मीट में कहा गया था कि न्यू नोएडा में इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट पर सबसे ज्यादा फोकस होगा इसीलिए 41 प्रतिशत लैंड को इंडस्ट्रियल यूज के लिए रखा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: