Kushinagar International Airport Inaugurated By PM Narendra Modi

Kushinagar International Airport Inaugurated By PM Narendra Modi

Kushinagar International Airport Inaugurated By PM Narendra Modi
Kushinagar International Airport Inaugurated By PM Narendra Modi

उत्तर प्रदेश को तीसरे इंटरनैशनल एयरपोर्ट की सौग़ात मिल गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुशीनगर एयरपोर्ट का उद्घाटन कर दिया है. श्रीलंका से बौद्ध भिक्षुओं को लेकर आई इंटरनैशनल फ्लाइट के कुशीनगर की ज़मीन पर उतरने के साथ ही इस इंटरनैशनल एयरपोर्ट की शुरुआत हो गई.

ये हवाई अड्डा 589 एकड़ ज़मीन पर 260 करोड़ रुपये की लागत से बना है. इस हवाई अड्डे के लोकार्पण के साथ ही उत्तर प्रदेश सबसे ज्यादा हवाई अड्डों वाला प्रदेश बन गया है. ये यूपी का नौवां एयरपोर्ट है.

कुशीनगर का ये एयरपोर्ट उत्तर प्रदेश का सबसे लंबे रनवे वाला एयरपोर्ट भी है. एयरपोर्ट के उद्घाटन के मौके पर प्राइम मिनिस्टर ने कहा कि आने वाले तीन से चार साल में देश में 200 से ज्यादा एयरपोर्ट और सीपौड का नेटवर्क खड़ा करने की कोशिश हो रही है.
देश में उड़ान योजना के तहत 900 से ज्यादा नए रूट्स को मंजूरी दी जा चुकी है, इनमें से 350 से ज्यादा रूट्स पर हवाई सेवा शुरू भी हो चुकी है. अब तक 50 से ज्यादा ऐसे एयरपोर्ट चालू किए गए हैं जो या तो नए हैं या पहले काम नहीं कर रहे थे.

पीएम ने कहा कि भारत बौद्ध समाज की आस्था और श्रद्धा का केंद्र है. इस एयरपोर्ट के उद्घाटन के साथ कुशीनगर दुनिया से जुड़ गया है. कुशीनगर का हवाई अड्डा सिर्फ एयर कनेक्टिविटी के लिहाज से ही महत्वपूर्ण नहीं है बल्कि इससे किसान, पशुपालक, दुकानदार, मजदूर, और लोकल बिज़नेसमेन भी फायदा उठाएंगे. इससे टूरिज़्म भी बढ़ेगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भगवान बुद्ध से जुड़ी जगहों को डेवेलप करने के लिए, बेहतर कनेक्टिविटी के लिए, और श्रद्धालुओं की सुविधाओं के निर्माण पर भारत सरकार खास ध्यान दे रही है.

इसी कार्यक्रम में सिविल एविएशन मिनिस्टर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया कि दिल्ली से कुशीनगर के लिए सीधी फ्लाइट 26 नवंबर से शुरू होगी. उसके बाद 18 दिसंबर को कुशीनगर से मुंबई और कोलकाता की फ्लाइट जोड़ी जाएगी.

ये एयरपोर्ट घरेलू और अंतरराष्ट्रीय तीर्थयात्रियों को भगवान बुद्ध के महापरिनिर्वाण स्थल पर जाने की सुविधा देगा. इस हवाई अड्डे से उत्तर प्रदेश के साथ साथ बिहार के आस-पास के जिलों को भी फायदा होगा.

कुशीनगर एक अंतरराष्ट्रीय बौद्ध तीर्थस्थल है, जहां भगवान गौतम बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था. कुशीनगर बौद्ध सर्किट का केंद्र बिंदु है. इस सर्किट में लुंबिनी, सारनाथ और गया भी शामिल हैं.

Leave a Comment

%d bloggers like this: