Jewar Airport Metro Latest News ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो

Jewar Airport Metro Latest News ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो

ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो
DPR 31 दिसम्बर तक ?

गौतम बुद्ध नगर के जेवर में बनने वाला नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट शायद दुनिया का इकलौता ऐसा एयरपोर्ट होगा जिसकी कनेक्टिविटी बेजोड़ होगी. ये एयरपोर्ट मेट्रो ट्रेन कनेक्टिविटी, बुलेट ट्रेन कनेक्टिविटी, 4 एक्सप्रेसवेज़ की कनेक्टिविटी, और पॉड टैक्सी कनेक्टिविटी वाला एयरपोर्ट होगा.

Jewar Airport Metro Latest News ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो
Jewar Airport Metro Latest News ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो

खास बात ये है कि मेट्रो और बुलेट ट्रेन के स्टेशन जेवर एयरपोर्ट की टर्मिनल बिल्डिंग में ही बनाए जाने की संभावना है. जेवर एयरपोर्ट बनाते समय एयर ट्रैवलर्स की हर सुविधा का ख्याल रखा जा रहा है.

JEWAR AIRPORT की मेट्रो कनेक्टिविटी से जुड़ी ताज़ा ख़बर ये है कि ग्रेटर नोएडा से नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट तक बनने वाले मेट्रो प्रोजेक्ट की डीपीआर जल्द तैयार होने की उम्मीद बढ़ गई है. ये डीपीआर यानी DETAILED PROJECT REPORT 2021 के अंत तक यानी 31 दिसंबर 2021 तक तैयार होने की संभावना है.

DMRC यानी DELHI METRO RAIL CORPORATION इस मेट्रो प्रोजेक्ट की DPR बना रही है. DPR बनाकर DMRC इसे YAMUNA AUTHORITY को सौंप देगी. YAMUNA AUTHORITY को डीपीआर मिलने के बाद आगे का काम किया जाएगा.

मीडिया रिपोर्ट्स में YAMUNA AUTHORITY के अधिकारियों का बयान है कि एयरपोर्ट से मेट्रो की कनेक्टिविटी की योजना पर काम जारी है। पहली DPR में ग्रेटर नोएडा से जेवर तक 25 मेट्रो स्टेशन तैयार करने की योजना थी, लेकिन बाद में इसमें बदलाव करते हुए मेट्रो स्टेशनों को कम करने का फैसला लिया गया.

Jewar Airport Metro Latest News ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो
Jewar Airport Metro Latest News ग्रेटर नोएडा से जेवर तक मेट्रो

अब DMRC डीपीआर में संशोधन का काम कर रही है. डीपीआर तैयार होने के बाद फंडिंग से लेकर अन्य जरूरी संसाधनों पर काम होगा। संभावना है कि 31 दिसंबर तक इसकी संशोधित डीपीआर तैयार हो जाएगी। ग्रेटर नोएडा से जेवर एयरपोर्ट तक लगभग 35 किलोमीटर लंबा मेट्रो ट्रैक बन जाने से एयरपोर्ट से मेट्रो की कनेक्टिविटी हो जाएगी।

इसके अलावा ग्रेटर नोएडा से ही नई दिल्ली रेलवे स्टेशन तक भी मेट्रो का नया कॉरिडोर बनाने की प्लानिंग पर काम हो रहा है. इस प्रोजेक्ट के लिए फीजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार कराई जा रही है जिसे बनने में सितम्बर 2021 से लगभग 9 महीने लगने का अनुमान लगाया गया था. यानी ये फीजिबिलिटी रिपोर्ट 2022 के मई-जून तक तैयार हो सकती है.

ग्रेटर नोएडा से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन तक बनने वाले नए मेट्रो कॉरीडोर से जेवर एयरपोर्ट दिल्ली के आईजीआई यानी इंदिरा गांधी इंटरनैशनल एयरपोर्ट से जुड़ जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: