Corona Song Hindi कोरोना वायरस इन इंडिया Corona Song Lyrics

Corona Song Hindi कोरोना वायरस इन इंडिया Corona Song Lyrics

Corona Song Hindi कोरोना वायरस इन इंडिया Corona Song Lyrics

corona song कोरोना वायरस

यूं ना डराओ कोरोना

मैं छुप ही न जाऊं कहीं

बाहर दीवारों से आना

मैं भूल ना जाऊं कहीं

फैला जब से ज़हर है तेरा

मैं कभी ढंग से सोया नहीं

बोल दो ना ज़रा

दोष क्या है मेरा

मैं किसी से कहूंगा नहीं

पूरब या पश्चिम या दक्षिण जाना

हर दिशा में नुस्खे इसके ही पाना

हर जगह इसकी ही दास्तां

कोरोना कोरोना कोरोना

हर तरफ है इसका ही रोना

जो टीवी खोलूं ख़बरें इसकी ही

हर डिस्कशन इससे ही जुड़ा है

सरकारों को भी अब है पता चला

इस बार किससे पाला पड़ा है

लड़कियां परेशां हैं शॉपिंग के बिन

सब काट रहे हैं घर पड़े-पड़े दिन

टेंशनें बढ़ गई खामखां

कोरोना कोरोना कोरोना

हर तरफ है इसका ही रोना

ओ कुछ ऐसा करें कमाल

के विदा हो जाए

ओ कुछ ऐसा करें कमाल

के विदा हो जाए

इसे ऐसा करें निढाल

अलविदा हो जाए

ये हरकतें ग़लत हैं

जो कर गई कनिका

क्यों संक्रमित दूसरों को

यूं कर गई कनिका

करना ना पड़े मलाल

करना ना पड़े मलाल

अलविदा हो जाए

ये वायरस दुनिया में तबाही मचा चुका है

भारत के भी सिस्टम को ये उंगलियों पे नचा चुका है

हो रहा है अब विकराल

बन जाए ना ये काल

अलविदा हो जाए

ना डरना ना घबराना बस रहना है अलर्ट मोड पर

जब बहुत ज़रूरी काम हो बस तब ही जाएं रोड़ पर

हाईजीन का रखें ख्याल

हिम्मत की बनें मिसाल

अलविदा हो जाए

देश में वायरस फैल रहा है

ख़तरे से अनजान है क्या

स्कूटी लेकर घूम रहा है

ये तो बता तुझे काम है क्या

सोशल डिस्टेंसिंग है ज़रूरी

इसको ना इग्नोर करो

सबकी जान पे ख़तरा आए

ऐसा पाप न घोर करो

बेमतलब यूं सड़क पे जाना

मौत को पास बुलाना है

लगता है खुद ही मरने का

इन लोगों ने ठाना है

इनके बहाने माशाअल्ला

जानें ना परिणाम है क्या

स्कूटी लेकर घूम रहा है

ये तो बता तुझे काम है क्या

लड़की खोली में है लड़का है चाल में

आने से डर रहे आमने सामने

मुसल्सल ख़बर है अब चल रही

हैं दोनों डटे टीवी के सामने

कोरोना आज

कोरोना आज फैला है संसार में

काफ़ी देखी गई है कमी प्यार में

कल तलक वो जो चोंचें थीं लड़तीं बड़ी

आज देखी गई है कमी धार में

टिकटॉकर यूट्यूबर घरों पे पड़े हैं

अब सभी वीडियो वहीं बन रहे हैं

कोरोना सबका ही फेवरेट टॉपिक

सारी ही स्टोरियां इसी पर बनीं

कुछ पति बर्तनों को हैं अब धो रहे

पोछे के संग वो झाड़ू भी दे रहे

मुसल्सल ख़बर है अब चल रही

मियां बीवी हैं आमने सामने

कोरोना आज

कोरोना आज फैला है संसार में

थोड़ा सा आया है प्यार परिवार में

कल तलक वो जो कहते थे छुट्टी नहीं

आज बैठे हैं छुट्टी के अंबार में

घुस गया

चाइना से वायरस आके

देखते हम रह गए

कुछ दिनों

में उजड़े आशियाने

अन्न को भी हैं तरसे

कैसे थमे ये ख़तरा

कॉन्ट्रिब्यूशन हो सबका ज़रा

घर पे हैं हम

सबके लिए

घर पे ही तुम रहना यारा

मुश्किल घड़ी

है ये बड़ी

है इम्तिहाँ ये हमारा

जुदा हो के तुमसे इन 21 दिनों में

तुम्हारी क़रीबी को जाना है मैंने

करिश्मा तुम्हारा ही है मेरी अमीरी

हां, अपनी ग़रीबी को जाना है मैंने

मुलाकातें पिछली दुआ बन गई हैं

कैलेंडर नज़र का ठिकाना बना है

कि अब जो मिलोगी तभी जान लेना

हक़ीक़त का कैसा फ़साना बना है

नए उस सवेरे की नई रोशनी में

नई ज़िन्दगी को सजाना है मैंने

जुदा हो के तुमसे इन 21 दिनों में

तुम्हारी क़रीबी को जाना है मैंने

ना चमकी तलवार

ना और कोई हथियार

पर मचा है हाहाकार

विपदा बड़ी भयंकर है

युद्ध ना कोई हुआ

बस हाथ ने हाथ छुआ

और हो गया हाल बुरा

विपदा बड़ी भयंकर है

फैली ऐसी महामारी

दुनिया बन गई बेचारी

थम गई है अर्थव्यवस्था

है खौफ़ सभी पर भारी

सब इसके बंधक हैं

सब इसके बंधक है

सब खुद ही तारणहार

युद्ध ना कोई हुआ

बस हाथ ने हाथ छुआ

और हो गया हाल बुरा

विपदा बड़ी भयंकर है

छींकते देखा उसे तो दिल मेरा घबरा गया

खांसी जब वो ज़ोर से मुझको पसीना आ गया

इंटिमेसी गई

है डिस्टेंसिंग

रहता हूँ ऑफिस में उससे 10 कदम की दूरी पर

रहती है मेरी नज़र उसकी छुई हर चीज़ पर

रहता हूँ ऑफिस में उससे 10 कदम की दूरी पर

रहती है मेरी नज़र उसकी छुई हर चीज़ पर

पास जब आने लगी तो दिल ने मेरे ये कहा

भाग ले बेटा यहाँ से अब कोरोना आ गया

इंटिमेसी गई

है डिस्टेंसिंग

Leave a Comment

%d bloggers like this: